digital marketing agency business

दोस्तों सदियों से इस दुनिया में लोग व्यापार कर रहे हैं और अपनी आजीविका चला रहे हैं , कोई कुछ चीज बना कर बेच रहा है कोई किसी चीज को ऊगा कर बेच रहा है , कोई किसी दुसरे के लिए काम कर रहा है और इस तरह अपने लिए पैसे कमा रहा है। व्यापार करने का तरीका लगातार बदलता जा रहा है और करने के बहुत सारे तरीके हैं लेकिन मुख्यतः काम होता है अपनी चीजों को ग्राहकों को बताना और उनको बेचना। पहले के ज़माने में लोग अपना सामान ले कर दूर दूर देशों में जा कर व्यापार किया करते थे लेकिन अब जमाना बदल गया है। अब लोगों के पास संचार के अत्याधुनिक माध्यम हैं और लोग उनके द्वारा लोगों को अपनी चीजों के बारे में बताते हैं जैसे कि फ़ोन पर , अख़बार , रेडियो , टेलीविज़न आदि में विज्ञापन दे कर और अब सबसे नया संचार का तरीका है इंटरनेट पर तो लोग इंटरनेट के जरिये भी अपनी चीजों के बारे में जानकारी अपने ग्राहकों तक पहुंचाने लगे हैं।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है – What is Digital Marketing

दोस्तों जैसा हमने बताया अलग अलग माध्यमों द्वारा अपने उत्पादों के बारे में लोगों को जानकारी दे कर लोग व्यापार करते हैं। तो डिजिटल मार्केटिंग वो तरीका है जिसमे आप इंटरनेट की मदद से अपने उत्पादों या सर्विस के बारे में लोगों को बताते हैं और अपना व्यापार करते हैं। कहने का आशय यह है कि किसी के द्वारा अपने व्यवसाय को search engine, social media, email, website, app के माध्यम से अपने संभावित ग्राहकों तक पहुँचने के लिए जो भी प्रयास किये जाते हैं वे सभी डिजिटल मार्केटिंग का हिस्सा हैं इसे इंटरनेट मार्केटिंग या ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहा जाता है। इसमें आम तौर पर website या App बनाना , search engine optimization (SEO), social media marketing (SMM), PPC Advertising, Content Marketing, Email marketing, blogging, video marketing इत्यादि जैसी बहुत सी तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है।

digital marketing

डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी क्या है – What is Digital Marketing Agency

आज का युग इंटरनेट का युग है और हर कोई इंटरनेट से जुड़ा हुआ है और इसका इस्तेमाल कर रहा है जो दिन भर दिन बढ़ता ही जा रहा है। इस वजह से डिजिटल मार्केटिंग की भी डिमांड काफी बढ़ गई है और हर कोई चाहता है कि वो इसका इस्तेमाल अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए करे। जिसके लिए लोग अपनी कंपनी में डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल को नौकरी पर रखते हैं या फिर किसी डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी की सहायता लेते हैं। क्योंकि अधिकतर काम इंटरनेट पर ही होता है तो एक डिजिटल एजेंसी अपने किसी भी क्लाइंट का काम चाहे वो दुनिया में कहीं पर भी हो आसानी से कर सकती है।

डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी अपने क्लाइंट के लिए डिजिटल मार्केटिंग के सारे काम करती है ताकि क्लाइंट के बिज़नेस और प्रोडक्ट की मार्केटिंग हो सके जिससे क्लाइंट पैसा कमा सके बदले में डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी अपना कमीशन या सेवा चार्ज लेती है। जैसे कि

  • वेबसाइट या एप्प बनाना
  • SEO करना
  • सोशल मीडिया सर्विस देना
  • PPC ads करना
  • content लिखना आदि

इस तरह डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी सुरु करने का बिज़नेस बहुत ही सुनहरा और मुनाफे वाला बिज़नेस है। लेकिन दोस्तों इस बिज़नेस में आपको कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है और काफी मेहनत करनी पड़ती है। तो दोस्तों चलिए आपको बताते हैं कैसे आप भी अपनी डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी सुरु कर सकते हैं और दुनिया भर के क्लाइंट जोड़ कर बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं।

digital agency

सबसे पहले डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंग और एक्सपीरियंस लें – First take training and experience in digital marketing

  • एक सफल डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी चलाने के लिए सबसे पहले आपको डिजिटल मार्केटिंग के बारे में पूरी जानकारी और एक्सपीरियंस होना बहुत जरूरी है। आज कई इंस्टिट्यूट और संस्थाएँ डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंग दे रही हैं जो कि 3 महीने से ले कर 1 साल तक का कोर्स हो सकता है। आप सबसे पहले किसी अच्छे इंस्टिट्यूट से डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंग लें। डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंग के लिए कोई विशेष योग्यता होने की जरूरत नहीं है कोई भी ये ट्रेनिंग ले सकता है लेकिन कंप्यूटर या मार्केटिंग बैकग्राउंड वालों को इसमें ज्यादा आसानी होती है, लेकिन कर कोई भी सकता है बस आपको समझ आना जरूरी है जिसके लिए आपको मेहनत और प्रैक्टिकल करना जरूरी है।
  • एक बार आपने ट्रेनिंग ले ली फिर आप कम से कम 6 महीने या 1 साल तक पहले से चल रही डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी में नौकरी करें ताकि उस एजेंसी में नौकरी करने के दौरान काम का एक्सपीरियंस और व्यवहारिक ज्ञान हासिल कर सके। साथ साथ इस बिज़नेस में आने वाली कठिनाइयों, चुनौतियों का मूल्यांकन करके फिर अपना मन पक्का कर सके और अपनी प्लानिंग कर सकें। 

डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी का प्लान बनाएं – Make plan for your digital agency

  • जगह की प्लानिंग – वैसे तो आप अपनी एजेंसी कहीं पर भी खोल कर काम कर सकते हैं क्योकि आप ऑनलाइन ही क्लाइंट बनाएँगे , लेकिन बेहतर होगा आप किसी शहर के आईटी पार्क या फिर ऑफिस काम्प्लेक्स में ही अपनी एजेंसी के लिए जगह देखें। इससे आपको फायदा यह होगा कि आपकी एजेंसी की रेपुटेशन अच्छी बनेगी।
  • एजेंसी ऑफिस का खर्चा – एक अच्छी एजेंसी खोलने के लिए आपको कम से कम 1000 sqft की जगह का ऑफिस चाहिए जिसमे केबिन बने हों जहाँ आप के बैठने का केबिन हो , कर्मचारियों का अलग केबिन हो , रिसेप्शन एरिया हो और टॉयलेट , पैंट्री भी हो तो अच्छा है। ऐसे ऑफिस का महीने का किराया आपको कम से कम 30 हज़ार महीने का पड़ेगा। वैसे आप सुरुवात छोटे ऑफिस से भी कर सकते हैं और बाद में बड़े ऑफिस में शिफ्ट हो सकते हैं।
  • कंप्यूटर, सॉफ्टवेयर , इंटरनेट आदि का खर्चा – आपको एजेंसी में लैपटॉप, कंप्यूटर उनमे लगने वाले सॉफ्टवेयर , इंटरनेट आदि की भी व्यवस्था करनी पड़ेगी।
  • कर्मचारियों की भर्ती – सफल तरीके से डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी चलाने के लिए आपको भी डिजिटल मार्केटिंग के कर्मचारियों की नियुक्ति अपने हिसाब से करनी पड़ेगी और उनका महीने के वेतन का खर्चा उठाना पड़ेगा। आप सुरु में कम कर्मचारियों से सुरुवात कर सकते हैं लेकिन जैसे जैसे आपके क्लाइंट बढ़ेंगे आपको और लोगों की जरूरत पड़ेगी।

एजेंसी का रजिस्ट्रेशन – Register your agency

जब आपका ऊपर लिखा प्लान बन गया और आप आगे बढ़ना चाहते हैं तो फिर आपको सबसे पहले अपनी एजेंसी का रजिस्ट्रेशन और अन्य प्रक्रिया पूरी करनी होगी

  • एजेंसी का नाम रखें और अपने बिज़नेस को रजिस्टर करें
  • एजेंसी का पैन कार्ड और GST रजिस्ट्रेशन करवाएं
  • एजेंसी का करंट बैंक अकाउंट खोलें

अपनी एजेंसी का काम सुरु करें – Start your digital marketing agency

win client

जब आपकी एजेंसी रजिस्टर हो जाती है उसके बाद आप निनलिखित तरीके से काम करें।

  • अपनी एजेंसी का ऑफिस किराये पर लें और उसकी ब्रांडिंग करें , साइन बोर्ड लगाएं , अंदर के पोस्टर , पम्पलेट आदि की प्रिंटिंग करें।
  • अपनी एजेंसी की वेबसाइट बनवाएं और उसपर अपनी एजेंसी के बारे में अपनी सर्विसेज के बारे में सारी जानकारी डालें और साथ साथ अपना कांटेक्ट नंबर भी उसमे डालें। फिर अपनी एजेंसी का फेसबुक पेज बनाएं और उसपर भी जानकारी डालें। फिर गूगल मैप में भी अपनी एजेंसी की लिस्टिंग करें।
  • कर्मचारियों की नियुक्ति करें और सबसे पहले अपनी एजेंसी की ही अच्छी तरह से सारे तरीकों से डिजिटल मार्केटिंग करें।

क्लाइंट बनाएं और पैसा कमाएं – Make clients and start earning

  • जब आप अपनी डिजिटल मार्केटिंग की एजेंसी की अच्छी तरह से डिजिटल मार्केटिंग करेंगे तो आपको क्लाइंट से इनक्वायरी आना सुरु हो जाएगी। आप उन क्लाइंट की जरूरतों को अच्छी तरह से समझें और उनको अपना प्रपोजल दे कर उन्हें अपना बना सकते हैं।
  • एक बार वो क्लाइंट आपका बन गया फिर आप उस क्लाइंट का काम अपने कर्मचारियों को दें जो अब उसका सारा काम करेंगे।
  • इस तरह आप एक के बाद दूसरा फिर तीसरा इस तरीके से नए क्लाइंट जोड़ते जाएंगे और उनसे काम की फीस या महीने की सर्विस चार्ज ले कर आप अच्छी कमाई कर सकते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग में सबसे अच्छी बात ये है कि एक संतुष्ट ग्राहक आपके साथ जिंदगी भर जुड़ जाता है और हर महीने आपको काम और पैसा देता है साथ साथ आपको नए क्लाइंट भी ला कर दे सकता है।

क्लाइंट को अच्छी सर्विस दें और समय पर सही दाम पर काम पूरा करें। तो दोस्तों जितने ज्यादा क्लाइंट आप जोड़ते जाएंगे उतनी ज्यादा आपकी कमाई होगी और आपकी एजेंसी भी बड़ी होती चली जाएगी और इस तरह आपका डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी का बिज़नेस आप कर सकते हैं जो कि स्वरोज़गार का बहुत ही बढ़िया तरीका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.